नास्तिक ज्यादा प्रगतिशील होते है

जो लोग दस-दस दिन का फ्रिज में रखा बासी खाना खाते है और पीजा-बर्गर से पेट भरते है,  वो  ओलम्पिक में सारे मैडल ले जाते है, और जो लोग दूध दही का खाना खाते है, पूरी दुनिया में योग का प्रचार करते है  और अपनी गाय के दूध में सोना बताते है, वो कोई मैडल नहीं जीत पाते

जो देश धर्म को नहीं मानते वो बहुत मेहनती है, अनुशासित है और ईमानदार है और जो देश धार्मिक है वो हर क्षेत्र में पिछड़े हुए है। इसका मतलब हमारी धारणाएं गलत है, हमने जीवन में जरूर कहीं न कहीं झूठ को पकड़ा हुआ है। हम अपने आपको बेनकाब करने से डरते है। अरे भाई कूद जाओ इस जीवन के भवसागर में, कब तक मौत को गले लगाए रखोगे ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.